अपनी पाठशाला,,,

अपनी पाठशाला निरन्तर सफलता की ओर ,,प्रज्ञा मैम और शोभा मिश्र जी के योगदान के लिए हार्दिक आभार जो उनके अथक प्रयास से हमारा ये संकल्प पूरा हो रहा है क्योंकि जहाँ निश्छल आशाएं जुड़ी हो वहाँ सफलता अवश्य मिलती है ,,और अब शायद यही हमारी मंजिल है क्योंकि पढ़ेगा इंडिया,, तभी तो बढ़ेगा इंडिया, Aapka Nirmal EARTHCARE FOUNDATION

Leave a Reply